RAW का फुल फॉर्म क्या है? RAW stands for?

Research and Analysis Wing

RAW का फुल फॉर्म Research and Analysis Wing होता है। RAW को हिंदी में अनुसंधान तथा विश्लेषण विंग के नाम से जाना जाता है। RAW एक भारतीय विदेशी खुफिया एजेंसी (Foreign Intelligence Agency) है। इसका मुख्य काम देश से जुड़ी विभिन्न खतरों पर खुफिया तरीके से नज़र रखना तथा उसके संबन्ध में देश के अंदर काम कर रहे गुप्तचर विभाग को जानकारी दे कर खतरे के बारे में आगाह करना है। इसी के आधार पर समय रहते खतरे से निपटने का प्लान तैयार किया जाता है तथा दुश्मनों को ठिकाने लगाया जाता है।

RAW की स्थापना 1968 में तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने की थी। इसकी स्थापना इसलिए की गई थी, क्योंकि उस समय की तत्कालीन भारतीय एजेंसियां भारत के खिलाफ चीन की साजिशों का पता लगाने में बुरी तरह असफल रही थी। इस कारण अचानक युद्ध के कारण भारत को तैयारी का समय नही मिल पाया था। यह उस समय भारतीय इंटेलिजेंस ब्यूरो की बहुत बड़ी नाकामी मानी गयी थी। इसी कारण युद्ध के बाद RAW की स्थापना की गई जो कि विशेष रूप से केवल विदेशी खुफिया विभाग के रूप में ही काम करती है।

RAW आधिकारिक रूप से 21 सितंबर 1968 से प्रभाव में आया था। RAW का मुख्यालय (Headquarter) नई दिल्ली में स्थित CGO Complex में है। RAW भारत के प्रधानमंत्री के नियंत्रण में होता है। RAW सारी महत्वपूर्ण जानकारी सबसे पहले भारत के प्रधानमंत्री के साथ ही साझा करता है। इसके अलावा विशेष अभियान के लिए भी RAW को प्रधानमंत्री की मंजूरी लेना आवश्यक होता है।

RAW के प्रमुख इसके डायरेक्टर होते हैं। इसके पहले डायरेक्टर Rameshwar Nath Kao थे। इनका कार्यकाल 9 वर्षों का था। इस दौरान इन्होंने कई महत्वपूर्ण मिशन को अंजाम दिया था। सिक्किम को भारत में मिलाने में भी RAW का काफी बड़ा योगदान था। इसके अलावा भी समय – समय RAW कई असाधारण अभियानों को अंजाम देता रहा है। वर्तमान समय में RAW की गिनती विश्व के टॉप की खुफिया एजेंसियों में की जाती है।

Leave a Reply