OYO का फुल फॉर्म क्या होता है ? OYO stands for?

OYO का Fullform “On Your Own” होता है। जिसको हिंदी भाषा में “ऑन योर ओन” पढ़ा जाता है, जिसका हिंदी में अर्थ “आपके अपने” या इसको यूं कहा जाये कि “अपने स्वयं के दम पर”, होता है। यह एक अतिथि सत्कार (Hospitality) प्रदान करने वाली कंपनी है। यह एक निजी क्षेत्र (Private Sector) वाली संस्था है, जो अपने ग्राहकों को Oyo Rooms, Houses, Hotels मुहैया करवाती है। Oyo का मुख्य उद्देश्य (Object) जन सामान्य, मुख्य तौर पर एक शहर से दूसरे शहर आने जाने वाले यात्रियों (Travellers) को सस्ते दामों (Low Rates) पर बेहतरीन मूलभूत (Basic) सुविधाओं के साथ देश के बड़े शहरों के होटलों में कमरा उपलब्ध कराना हैं।
Oyo का मुख्यालय (Headquarters) देश के गुड़गांव (Gurgaon) तथा हरियाणा (Haryana) में स्थित है। इसको पूर्व में “ऑरवेल स्टेज़” (Oravel Stays) के नाम से जाना जाता था, यह नाम इसे वर्ष 2012 में दिया गया था। लेकिन इसके एक वर्ष बाद ही 2013 में इसक बदल कर “OYO” कर दिया गया। वर्तमान समय मे OYO अपनी सुविधाएं India, UAE, Nepal, China, Malesia, Srilanka, Philippines तथा Indonesia जैसे देशों में उपलब्ध करवा रहा है।
Oyo की स्थापना वर्ष 2013 में हुई थी। इसके संस्थापक (Founder) रितेश अग्रवाल (Ritesh Agarwal) है। चूंकि रितेश खुद बहुत ज्यादा यात्रा करते थे। इसके दौरान उनको हमेशा ही रुकने के लिए बड़ी परेशनियों का सामना करना पड़ता था। रुकने के लिये कमरे न मिलना तथा उनके लिये बहुत अधिक भुगतान (Payment) करना, जैसी समस्याओं से उनको गुजरना पड़ता था। इसके चलते उन्होंने 2012 में “Oravel Stays” के नाम से एक Start -Up की शुरूआत की। जिसका मुख्य उद्देश्य लोगो को छोटी (Short) या मध्य अवधि (Medium Period) के लिए कम दामों पर कमरों (Rooms) को उपलब्ध करवाना था। इसके कुछ समय बाद ही VentureNursery नाम की एक कंपनी ने 30 लाख ₹ का Fund भी इनको उपलब्ध करवाया। इसके कुछ समय बाद ही उनको “Theil Fellowship” में दसवाँ (Tenth) स्थान हासिल हुआ, जिसके परिणामस्वरूप उनको 66 लाख ₹ की धनराशि (Amount) प्राप्त हुई। लेकिन बाद में यह Start -Up ज्यादा नही चल सका।
उसके बाद रितेश ने 2013 में अपनी पिछली गलतियों (Mistakes) को सुधारते हुए “OYO” के नाम से अपनी Company की शुरुआत करी। उन्होंने अपने ग्राहकों की जरूरतों (Needs) को बारीकी से (Granularly) समझा तथा दी जाने वाली सुविधाओ की गुणवत्ता(Quality) में सुधार किया। जिसके परिणामस्वरूप कंपनी चल पड़ी। वर्ष 2014 में Lightspeed Venture Partners (LSVP) तथा DSG Consumer Partners ने 4 करोड़ रूपये का निवेश (Investment) OYO में किया। इसके बाद जापान की बहुराष्ट्रीय कंपनी (Multi National Company) Softbank, ने 2016 में इसमें रुचि दिखाते हुए 7 अरब रुपयों का Investment किया।
2 July, 2016 में रितेश अग्रवाल को एक International Magazine GQ (Gentlemen’s Quarterly) ने उनके सरहनीय कार्यो के लिऐ “50 Most Influential Young Indians Innovators” की सूची में स्थान दिया। 2018 में OYO ने OYO HOMES की शुरुआत की, जिसमे घर किराये (Rent) पर दिये जाते है। वर्तमान समय मे शिमला, गोवा, पांडिचेरी, उदयपुर तथा केरला जैसे 10 शहरों में यह सुविधा है। वर्तमान समय मे इसके Chief Executive Officer (CEO) Ritesh Agrawal ही है।

Leave a Reply