NRI का फुल फॉर्म क्या है? Full form of NRI

Non Resident Indians 

NRI का फुल फॉर्म Non Resident Indians होता है। हिंदी में NRI को अप्रवासी भारतीय कहा जाता है। NRI यानी Non Resident Indians उन्हें कहा जाता है, जो कि भारत में पैदा हुए या उनके वंश भारतीय हों लेकिन अब वह भारत में न रह कर किसी और देश में रह रहे हैं। यानी कि भारत से जड़े जुड़ी होने के बावजूद जो लोग दूसरे देशों में रहने चले गए हैं, उन्हें NRI कहा जाता है।

NRI को Overseas Indians भी कहा जाता है। इसके अलावा इनके लिए Persons of Indian Origin (PIOs) शब्द का भी उपयोग किया जाता है। वर्तमान समय में विश्व के अलग – अलग देशों में काफी बड़ी संख्या में ऐसे लोग रह रहे हैं, जिनकी जड़े भारत से जुड़ी हुई हैं। भारतीय विदेश मंत्रालय (Ministry of External Affairs) के एक आंकड़ो के अनुसार दिसंबर 2018 तक आधिकारिक रूप से NRI तथा PIO की संख्या 30,995,729 हो चुकी है।

दिसंबर 2018 में जारी आंकड़ो के अनुसार NRI की संख्या सबसे अधिक अमेरिका में है। उस समय तक 44 लाख से अधिक NRI अमेरिका में रह रहे हैं। वहीं, सबसे अधिक NRI के मामले में संयुक्त अरब अमीरात दूसरे नंबर पर है। UAE में NRI की संख्या दिसंबर 2018 तक 3,104,586 थी। इसी तरह सऊदी अरब में 28 लाख से अधिक, मलेशिया में 29 लाख से अधिक NRI रह रहे हैं। इसी तरह लगभग 3 दर्जन ऐसे देश हैं, जहां NRI की संख्या 1 लाख से भी अधिक है।

NRI में सबसे अधिक संख्या हिन्दू धर्म से संबन्ध रखने वालों की है। इसके बाद इस्लाम धर्म, सिक्ख तथा जैन धर्म का स्थान है। 2019 में अमेरिका द्वारा जारी किए गए एक रिपोर्ट के अनुसार विश्व के देशों में सबसे अधिक भारत से ही लोग पलायन कर रहे हैं। वहीं, साल दर साल यह आंकड़ा बढ़ता भी जा रहा है। अमेरिका आने के लिए आवेदन करने वालों में भारतीयों की संख्या काफी अधिक है।

Leave a Reply